सबेरे की विनती |Jesus Morning Pray| प्रभु की विनती

सबेरे की विनती ।प्रभु की विनती।प्रणाम मरिया।प्रणाम रानी।हे ईश्वर के दूत।प्रेरितों का धर्मसार।ईश्वर की दस आज्ञाएं। कलीसिया के छ: नियम । धर्म के चार बड़ी सच्चाईयाँ।विश्वास की विनती।भरोसे की विनती। प्रेम की विनती। पछतावे की विनती।

पवित्र त्रित्व की स्तुति

पिता और पुत्र और पवित्र आत्मा के नाम पर । आमेन ।

दूत-संवाद

प्रभु के दूत ने मरिया को संदेश दिया।
और वह पवित्र आत्मा से गर्भवती हुई । प्रणाम मरियम ..

देख, मैं प्रभु की दासी हूँ।
तेरा कथन मुझमें पूरा हो। प्रणाम मरियम …

और शब्द देह बना ।
और हमारे बीच में रहा। प्रणाम मरियम …

हे ईश्वर की पवित्र माँ, हमारे लिए प्रार्थना कर,
कि हम ख्रीस्त की प्रतिज्ञाओं के योग्य बन जाएँ।

हम प्रार्थना करें

हे प्रभु, हमने स्वर्गदूत के संदेश द्वारा तेरे पुत्र ख्रीस्त का देहधारण जान लिया । हमारी यह प्रार्थना सुन ले – अपनी कृपा हमारी आत्माओं को प्रदान कर, कि हम उन्हीं खीस्त के दुःख और क्रूस द्वारा पुनरुत्थान की महिमा तक पहुँच सकें । उन्हीं हमारे प्रभु ख्रीस्त के द्वारा । आमेन ।

पिता, पुत्र और पवित्र आत्मा की बढाई होवें. जैसे वह आदि में थी, अब है और अनंत काल तक. आमेन.

स्वर्ग की रानी [ पवित्र शनिवार से पेन्तेकोस्त तक ]

हे स्वर्ग की रानी, आनन्द कर । अल्लेलूया ।
जिसको तूने पैदा किया । अल्लेलूया ।
वह अपनी कथनानुसार जी उठा । अल्लेलूया ।
ईश्वर से हमारे लिए प्रार्थना कर । अल्लेलूया ।
आनन्द मना और प्रसन्न हो, हे कुँवारी मरियम । अल्लेलुया ।
प्रभु सचमुच जी उठे । अल्लेलूया ।

हम प्रार्थना करें

हे ईश्वर, तूने अपने पुत्र हमारे प्रभु येसु ख्रीस्त के पुनरुत्थान द्वारा, संसार को आनन्द दिया है । हमारी यह प्रार्थना सुन – ऐसा कर कि हम उनकी माँ मरियम के द्वारा, अनन्त जीवन का आनन्द प्राप्त कर सकें | आमेन ।

पिता, पुत्र और पवित्र आत्मा की बढाई होवें. जैसे वह आदि में थी, अब है और अनंत काल तक। आमेन।

बिहान की विनती

हे मेरे ईश्वर, मैं तेरी आराधना करता (करती ) हूँ और तुझे अपने सारे दिल से प्यार करता (करती ) हूँ।मैं तुझे धन्यवाद देता (देती) हूँ क्योंकि तूने मुझे सृजा, मुझे अपनी धर्म मंडली में भर्ती किया और बीती हुई रात में मुझे सम्भाला है। आज के सब काम तुझे चढ़ाता (चढ़ाती) हू्ंँ। ऐसा कर कि तेरी बड़ी बड़ाई और पवित्र इच्छानुसार होवे। मुझे पाप और हर बुराई से बचा। तेरी कृपा हमेशा मेरे साथ और उनके साथ रहे जो मेरे प्यारे हैं।

प्रभु की विनती

प्रभु की विनती

हे पिता हमारे, जो स्वर्ग में हैं, तेरा नाम पवित्र किया जावे, तेरा राज्य आवे, तेरी इच्छा जैसे स्वर्ग में है, वैसे इस पृथ्वी पर भी हो।
हमारा प्रतिदिन का आहार आज हमें दे, और हमारे अपराध हमें क्षमा कर, जैसे हम भी अपने अपराधियों को क्षमा करते हैं, और हमें परीक्षा में न डाल, परन्तु बुराई से बचा। आमेन।

प्रणाम मरिया

प्रणाम मरिया कृपा पूर्ण, प्रभु तेरे साथ है. धन्य है तू स्त्रियों में, और धन्य है तेरे गर्भ का फल येसु।
हे संत मरिया, परमेश्वर की माँ, प्रार्थना कर हम पापियों के लिए, अब और हमारे मरने के समय। आमेन।

प्रणाम रानी

प्रणाम रानी ! दया की माँ ! हमारा जीवन, हमारी मधुरता और आशा, तुझे प्रणाम। हम हेवा की निर्वासित संतान तुझे पुकारते हैं। हम इस दु:ख–पूर्ण संसार में रोते और विलाप करते हुए तेरा नाम लेते हैं; हे हमारी माता ! कृपया हम पर दया–दृष्टि कर और हमारे इस निर्वासन के बाद अपने गर्भ का पवित्र फल, येसु हमें दिखा। हे दयालु ! हे प्रेममयी ! हे मधुर कुवॉंरी मरिया ! आमेन।

हे ईश्वर के दूत

हे ईश्वर के दूत! जो मेरा रखवाला है, मैं ईश्वर की दया से, तेरे हाथों में सौंपा गया हूँ। मुझे उंजियाला दे, मेरी रक्षा कर और मुझे सीधा चला। आमीन !

प्रेरितों का धर्मसार

हम स्वर्ग और पृथ्वी के सृष्टिकर्ता, सर्वशक्तिमान पिता परमेश्वर में विश्वास करते हैं और उस के एकलौते पुत्र हमारे प्रभु, येसु ख्रीस्त पर, जो पवित्र आत्मा के द्वारा गर्भ में आये और कुँवारी मरियम से जन्मे, पोंतुस पिलातुस के शासन काल में क्रूस पर चढाये गए, मर गए, दफनाये गए और अधोलोक में उतरे। तीसरे दिन मृतकों में से जी उठे, स्वर्ग गए, सर्वशक्तिमान पिता परमेश्वर के दाहिने विराजमान हैं। वहां से जीवितों और मृतकों के न्याय करने फिर आएंगे।

हम पवित्र आत्मा, पवित्र कैथोलिक कलीसिया, धर्मियों की सहभागिता, पापों की क्षमा, शरीर के पुनरूत्थान और अनंत जीवन में विश्वास करते हैं। आमेन।

ईश्वर की दस आज्ञाएं

1. मैं प्रभु तेरा परम ईश्वर हूँ। प्रभु अपने परमेश्वर की आराधना करना। उसको छोड़ और किसी की नहीं।
2. प्रभु अपने परमेश्वर का नाम व्यर्थ न लेना।
3. प्रभु का दिन पवित्र रखना।
4. माँ–बाप का आदर करना।
5. मनुष्य की हत्या न करना।
6. व्यभिचार न करना।
7. चोरी न करना।
8. झूठी गवाही न देना।
9. परस्त्री की कामना न करना।
10. पराये धन पर लालच न करना।

कलीसिया के छ: नियम

१. इतवार और हुक्म पर्व में यूखरिस्त में भाग लेना।
२. उपवास और परहेज के दिन मानना।
३. बरस–बरस कम–से–कम एक बार पाप–स्वीकार करना।
४. पास्का पर्व के समय योग्य रीति से परमप्रसाद ग्रहण करना।
५. कलीसिया के पुरोहितों को संभालने में भाग लेना।
६. विवाह के सम्बन्ध में कलीसिया के नियम मानना।

धर्म के चार बड़ी सच्चाईयाँ

१. केवल एक ईश्वर हैं।
२. एक ईश्वर में तीन जन हैं – पिता और पुत्र और पवित्र आत्मा।
३. पुत्र ईश्वर हमलोगों के लिए मनुष्य बन गया, क्रूसु पर मर गा और जी उठा।
४. ईश्वर भले मनुष्यों को अनन्त सुख और बुरें मनुष्यों को अनन्त दु:ख देगा।

विश्वास की विनती

हे मेरे ईश्वर, जो कुछ तूने बताया और पवित्र कलीसिया विश्वास करने को सिखाती है, उन सब बातों पर मैं दृढ़ विश्वास करता हूँ, इसलिए कि तू सच्चाई ही है, जो न ठगता है और न ठगा जा सकता है। इस विश्वास में मैं जीना और मरना चाहता हूँ।आमेन।

भरोसे की विनती

हे मेरे ईश्वर, तू हमारे लिए असीम भला है, तू सर्वशक्तिमान् है, तू अपनी प्रतिज्ञाओं को पूरा करता है। इसलिए मैं ढृढ़ भरोसा रखता हूँ, कि येसु खीस्त के पुण्य–फलों के कारण, मैं इस जीवन में अपने पापों की क्षमा, अच्छी तरह से तेरी सेवा करने की कृपा, और दूसरे जीवन में अंनत सुख पाऊँगा। इस भरोसे में मैं जीना और मरना चाहता हूँ। आमेन।

प्रेम की विनती

हे मेरे ईश्वर, मैं तुझको सारे दिल और मन से और सब कुछ से अधिक प्यार करता हूँ। क्योंकि तू असीम भला और दयालु है और मैं अपने पड़ोसियों को तेरे प्रेम के लिए अपने समान प्यार करता हूँ। इस प्रेम में मैं जीना और मरना चाहता हूँ। आमेन।

पछतावे की विनती

हे मेरे ईश्वर, मैं सारे दिल से उदास हूँ कि मैंने तेरी असीम भलाई और बड़ाई के विरूद्ध अपराध किया है। मैं अपने सब पापों से बैर और घिन करता हूँ, इसलिए कि तू, हे मेरे ईश्वर, जो मेरे पूरे प्रेम के इतना योग्य है, मेरे पापों से नाराज हो जाता है और मैं यह दृढ़ संकल्प करता हूँ कि तेरी पवित्र कृपा से, तेरा अपराध कभी न करूँगा, और पाप की जोखिमों से दूर रहूँगा।आमेन।

Lord Jesus , My lord Jesus
Lord Jesus , My lord Jesus

पिता और पुत्र और पवित्र आत्मा के नाम पर । आमेन ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.